उत्तर प्रदेश के किसानो का उग्र प्रदर्शन | इस मांग को लेकर वाहनों को फूंक डाला - See Latest
उत्तर प्रदेश के किसानो का उग्र प्रदर्शन | इस मांग को लेकर वाहनों को फूंक डाला

उत्तर प्रदेश के उन्नाव के किसानों ने रविवार को भूमि अधिग्रहण को लेकर उनकी मांगो को ना मानने को लेकर हिंशक प्रदर्शन किया | किसानों द्वारा मुआवजे को लेकर किये जा रहे प्रदर्शन के दूसरे दिन रविवार को उन्नाव के किसानों ने सरकारी सम्पति को काफी नुक्सान पंहुचाया, प्रदर्शनकारी किसानों ने जेसीबी और गाड़ी पर पथराव किया और देखते ही देखते किसानो के प्रदर्शन ने हिंशक रूप ले लिया था | यह सारा मामला यूपीएसआईडीसी की ट्रांस गंगा सिटी का है, जहां तीन साल से किसान अधिग्रहण की शर्तें पूरी नहीं किए जाने के कारण लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं और रविवार को उग्र रूप ले लिया |

उन्नाव के किसानो का हिंशक प्रदर्शन

farmers protest in unnav

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में जारी किसानों के प्रदर्शन में कल रविवार को जिस तरीके से उग्र रूप लिया है इसके मद्देनजर जिला अधिकारी और सिटी मजिस्ट्रेट को वहां के हालात के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने मौके पर भेजा है | रविवार को किसानो के द्वारा आगजनी करने के बाद मामले को शांत करवाने के लिए बाद में वहां सिटी मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में तहसील विभाग के अधिकारी पहुंचे | लेकिन किसान अपनी मांगो को लेकर सारा दिन अड़े रहे और भूमि अधिग्रहण पर सरकार को उनकी मांगो को सुनने को कहा है |

क्या है किसानों की मांग

ज्ञात हो की उत्तर प्रदेश में ट्रांस-गंगा सिटी एक निर्माणाधीन प्रोजेक्ट है और इसके तहत किसानों की भूमि का अधिग्रहण किया गया था और उनको मुआवजा दिया जा चूका है ऐसा वहां के अधिकारीयों का मानना है | लेकिन किसानों प्रदर्शकारी किसानों की मांग है कि मौजूदा वक्त के हिसाब से उनकी जमीन का उचित मुआवजा दिया जाए जोकि उनको नहीं दिया गया | वहीं जिला आधिकारी देवेंद्र पांडेय का कहना है कि किसानों को मुआवजा दिया जा चुका है और प्रशासन के पास किसानों का कोई बकाया नहीं है|

इसी के चलते रविवार को उनाव के किसानो ने सरकार और अधिकारीयों पर आरोप लगाते हुए कहा की जब तक उनको उचित मुआवजा नहीं दिया जाता वो प्रदर्शन करते रहेंगे |

वहीँ दूसरी तरफ अधिकारीयों के बिलकुल ही अलग तेवर है - किसानों के दो गुट बने हुए हैं जो अपने स्वार्थ के लिए दूसरों को गुमराह कर रहे हैं, इसके बावजूद कि उनकी शिकायतों का समाधान पहले ही हो चुका है ये वहां के अधिकारी ने वक्तव्य में कहा है |

CHECK HERE Other News of Uttar Pradesh State