बेंगलुरु के इस लड़के का स्टार्टअप आज इजराइल और अमेरिकी सेना की आँख बना हुआ है - See Latest
बेंगलुरु के इस लड़के का स्टार्टअप आज इजराइल और अमेरिकी सेना की आँख बना हुआ है

बेंगलुरु स्थित एक टेक्नोलॉजी स्टार्टअप जो सिर्फ एक स्टूडेंट के द्वारा खड़ा किया गया था आज वही स्टार्टअप एक कंपनी के रूप मे अमेरिकी और इजराइली सेना के लिए आँख बना हुआ है | जैसा की भारतीय सेना ने पाकिस्तान के अंदर घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक की थी और जिस तरीके के नाईट विज़न के हथियारों को इस्तेमाल किया गया था उसी तरह के हथियारों की टेक्नोलॉजी यह बेंगलुरु बेस्ड स्टार्टअप अमेरिकी और इजराइल सेना को मुहैया करा रहा है |

बेंगलुरु के इस स्टार्टअप को भारतीय सेना के साथ साथ अमेरिकी सेना और इजराइली सेना से साझा वेंचर्स मिलते हैं | टोनबो इमेजिंग के नाम से इस स्टार्टअप ने कंपनी ने पहले अमेरिका, नासा और इजराइली सेना के साथ मेल किया भारतीय सेना, डिफेन्स मिनिस्ट्री और भारतीय आर्म्ड फोर्सेज इस मामले में पीछे रही और कंपनी की टेक्नोलॉजी अमेरिका,इजराइल के पहले चक्कर लगा चुकी थी |

यह स्टार्टअप आज अमेरिका और इजराइली सेना की आँख बना है

tonbo imaging startup

टोनबो इमेजिंग के नाम से बेंगलुरु स्थित स्टार्टअप कंपनी अमेरिका और इजराइली सेना के लिए इमेजिंग से लेकर मिसाइल के साजो सामान तक बना रही है | एकेले व्यक्ति से शुरू की गया स्टार्टअप आज हजारो लाखों डॉलर्स की कंपनी का रूप ले चूका है | भारतीय सेना जो इस प्रोजेक्ट के साथ जुडी हुई है लेकिन इससे पहले ही इस कंपनी पर अमेरिका और इजराइली सेना अपनी नजर में ले चुकी थी|

लक्ष्मीकुमार है स्टार्टअप से MNC बनी कंपनी के CEO

अरविन्द लक्ष्मीकुमार जो इस कंपनी के सीईओ हैं उनका कहना है की इस बेंगलुरु बेस्ड टेक्नोलॉजी कंपनी भारतीय सेना से पहले पांच देशो के साथ व्यापर कर चुकी थी | हाल में यह कंपनी 25 देशो के साथ डिफेंस में व्यापार साझा करती है |  लक्ष्मीकुमार टोनबो इमेजिंग कंपनी के फाउंडर और सीईओ हैं |

tonbo imaging company banglore

कंपनी इमेजिंग एंड ट्रैकिंग सिस्टम रफाएल एंड इजराइल एयर स्पेस IAS जैसी ग्लोबल कंपनियों को बेचती है
एडवांस्ड आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस (AI ), मशीन लर्निंग, एडवांस सेंसिंग, स्पॉट डिटेक्टिंग जैसे और अन्य तरह के हथियार बनाती है |

For More Details Visit Company Website

Not Found